Best 22 Quotes of william shakespeare

    

 विलियम शेक्सपियर Quotes


1."मूर्ख हमेशा अपने आप को बुद्धिमान समझते हैं लेकिन 
   बुद्धिमान लोग स्वयं को हमेशा मूर्ख ही समझते हैं।"

2."प्रेम सबसे करें, विश्वास कुछ पर करें और किसी को भी         नुकसान न पहुंचाएं।"

3."महानता से बिलकुल ना डरें ! कुछ लोग महान पैदा होते      हैं, कुछ महानता हासिल करते हैं और कुछ लोगों में              महानता समाहित होती है। "

4." मैं तुम्हे बुद्धिमता की लड़ाई के लिए ललकारता लेकिन 
     मैं देख रहा हूँ की तुम निहत्थे हो।"

5."हमारा भाग्य सितारों और ग्रहों के बस में नहीं है बल्कि        हमारे बस में है।"

6."कुछ भी अच्छा या बुरा नहीं होता, हमारे विचार ही उन्हें        अच्छा या बुरा बनाते हैं।"

7."नरक रिक्त है और सारे राक्षस यहीं हैं।"

8."हम जानते हैं की हम क्या हैं, लेकिन ये नहीं जानते की        हम क्या बन सकते हैं।"

9."ये दुनिया एक रंगमंच है और सभी स्त्री और पुरुष केवल      अदाकार; सबके प्रवेश और निकास का समय भी तय है;      और एक व्यक्ति अपने समय अंतराल में अनेक किरदार        निभाता है। ये किरदार 7 चरणों में निभाया जाता है।"

10. "शब्द हवा की तरह ही आसानी से बहते हैं; वफादार            मित्रों को पाना बेहद मुश्किल है।"

11."कायर मृत्यु से पहले कई बार मरते हैं;

12."अगर तुम प्रेम करते हो और तुम्हे कष्ट मिलता है, तो           और प्रेम करो।
     अगर तुम और प्रेम करते हो और तुम्हे ज्यादा कष्ट               मिलने लगता है तो और भी ज्यादा प्रेम करो।  
     अगर तुम और भी ज्यादा  प्रेम करते हो और फिर भी           तुम्हे कष्ट मिलता है तो तबतक प्रेम करते रहो जबतक         की कष्ट मिलना बंद न हो जाये।"

13."वे लोग खुश हैं जो अपने ऊपर लगे कलंक को जानकर        उसे हटाने में लग जाते हैं।"

14."दूसरों से मदद की उम्मीद ही हर बुराई की जड़ है।"

15."अच्छाई की प्रचुरता बुराई में बदल जाती है। "

16."एक मिनट की देरी से आने से बेहतर है तीन घंटे पहले         आ जाना।"

17."एक छोटी सी मोमबत्ती का प्रकाश कितनी दूर तक             जाता है! इसी तरह इस बुरी दुनिया में एक अच्छाई कुछ       समय तक प्रकाशित रह पाती है।"

18."खाली बर्तन सबसे अधिक शोरगुल करते हैं."

19."सुनहरा युग हमारे सामने है, ना कि पीछे."

20."रोना दुःख की गहराई को कम कर देता है।"

21."एक पुरानी कहावत है जो मुझपर भी लागू होती है: जो       खेल आप खेल ही नहीं रहे हैं उसे आप हार नहीं सकते।"

22."बुद्धिमानी से धीरे धीरे आगे बढ़ो। जो जल्दीबाजी में             गलती करते हैं वो गिर जाते हैं।"


No comments:

Post a Comment

Comment Related Post